कैसे काम करती है S-400 मिसाइल

ये उन सबको ट्रैक कर लेगा, फिर चाहे वो कोई एयरक्राफ्ट हों, बॉम्बर्स हों या मिसाइल और मानवरहित विमान

...

पाक व चीन दोनो को भारत की सुरक्षा के सापेक्ष देखा जाय तो हमे 12 यूनिट S400 की आवश्यकता है पर हमारे द्वारा प्राप्त की गई 5 यूनिट भी वर्तमान में पर्याप्त कही जा सकती है। भारत को पाकिस्तान के साथ-साथ चीन की ओर से भी मिसाइल हमलों और हवाई हमलों का ख़तरा रहता है। इसलिए एस-400 वायु सुरक्षा प्रणाली के बहुत काम आ सकती है। भारत को पड़ोसी देशों के खतरे का सामना करने के लिए इस रक्षा प्रणाली की त्वरित जरूत तो थी ही। इसलिए भारत 4000 किलोमीटर लम्बी चीन भारत सीमा के मद्देनजर अपनी सुरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिये लम्बी दूरी तक मार करने वाली मिसाइल प्रणाली चाहता था। एस 400 रूस की सबसे आधुनिक लम्बी दूरी तक मार करने वाली मिसाइल प्रतिरक्षा प्रणाली मानी जाती है। मौजूदा वक्त में पाकिस्तान के पास अपग्रेडेड एफ-16 से लैस 20 फाइटर स्क्वैड्रन्स हैं। इसके अलावा उसके पास चीन से मिले J-17 भी बड़ी संख्या में हैं। पड़ोसी देश और प्रतिद्वंद्वी चीन के पास 1,700 फाइटर हैं, जिनमें 800 4-जेनरेशन फाइटर भी शामिल हैं। अगर एक ही वक्त में हमारे ऊपर कई सारी चीजों से हमला किया जाए, तो ये उन सबको ट्रैक कर लेगा, फिर चाहे वो कोई एयरक्राफ्ट हों, बॉम्बर्स हों या मिसाइल और मानवरहित विमान (UAC) हों। लम्बी दूरी से ही ये न केवल उन्हें ट्रैक करेगा, बल्कि उन्हें रोकने के लिए जिन मिसाइलों की जरूरत होगी, उसे भी लॉन्च करेगा। यह दुश्मन के क्रूज, एयरक्राफ्ट और बैलिस्टिक मिसाइलों को मार गिराने में सक्षम है। यह एक ही राउंड में 36 वार कर सकती है मतलब एक बार मे 36 मिसाइलों को ध्वस्त कर सकती है। कहा जा सकता है कि S-400 Triumf, एक विमान भेदी मिसाइल है जो 400 कि0मी0 तक मार कर सकती है। समझ लीजिए कि यह इतना पावरफुल है कि अमेरिका के सबसे शक्तिशाली फाइटर जेट F35 को भी गिरा सकती है। इसमे एक साथ तीन मिसाइले दागी जा सकती है। यह एक ऐसी प्रणाली है जो बैलेस्टिक मिसाइलों से बचाव करता है। दुश्मन की ओर से दागी मिसाइलों का पता लगा उन्हें हवा में ही मार गिराता है। 5 मिनट के भीतर इस मिसाइल प्रणाली को तैनात किया जा सकता है। यह 100 से 300 हवाई टारगेट को भांप सकती है। 600 किलोमीटर दूर तक निगरानी करने की है क्षमता, 400 किलोमीटर तक मिसाइल को मार गिराने की क्षमता, 36 लक्ष्यों पर एक साथ निशाना लगा सकती है।